IRCTC ने की अपील, “RailYatri और Travel-Khana जैसे प्लेटफ़ॉर्म से न ऑर्डर करें फ़ूड”

  • by Ashutosh Kumar Singh
  • May 4, 2019

RailYatri और Travel-Khana जैसे प्लेटफ़ॉर्म वर्तमान समय में देश में काफी तेजी से लोकप्रिय अर्जित कर रहें हैं। लेकिन अब ऐसा लगता है कि इन प्लेटफ़ॉर्म के लिए मुसीबत खड़ी होने वाली है।

जी हाँ! दरसल नवीनतम रिपोर्ट के अनुसार भारतीय रेलवे खानपान और पर्यटन निगम लिमिटेड (IRCTC) ने बिना लाइसेंस वाले निजी क्षेत्र के सेवा प्रदाताओं के खिलाफ़ निचली अदालतों में एक याचिका दायर की है।

भारतीय रेलवे की कैटरिंग शाखा ने RailYatri और Travel-Khana  सहित कई कंपनियों के खिलाफ कानूनी लाइसेंस के बिना खाद्य सामग्रियों के ऑर्डर संबंधी सेवाएं प्रदान करने के खिलाफ़ कोर्ट में याचिका दायर की है।

दरसल बिजनेस स्टैंडर्ड की एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई, जिसके अनुसार इस याचिका में कहा गया है कि इन कंपनियों द्वारा दी जाने वाली ऑनलाइन फूड ऑर्डरिंग सेवाएं गैरकानूनी हैं।

इस बीच हम आपको बता दें कि ऐसे ही कुछ समय पहले दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा RailYatri पर अनधिकृत ढंग से अपने प्लेटफ़ॉर्म पर ट्रेन यात्रा बुकिंग सेवाओं के संचालन के चलते रोक लगा दी गई थी। जिसके बाद इस कंपनी ने आईआरसीटीसी द्वारा अपनी इन रेलवे बुकिंग सेवा के संचालन के लिए लाइसेंस की मांग की थी।

READ  WhatsApp पर 'चाइल्ड पोर्न' शेयर करने पर होगी बिना ज़मानत 7 साल की जेल

खैर! इस बार खुद IRCTC ने कंपनी की ऑनलाइन खाद्य सेवाओं की वैधता पर सवाल उठाया है। दरसल आईआरसीटीसी की दलील यह है कि कोई भी फर्म यात्रियों को भोजन की पेशकश नहीं कर सकती है जब तक कि वह आईआरसीटीसी द्वारा आधिकारिक रूप से बतौर एग्रीगेटर के रूप में नियुक्त न की गई हो।

हालाँकि अब तक इस विषय पर RailYatri की तरफ से कोई भी अधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है कि कंपनी किस प्रकार से लाइसेंस की मांग  और कैसे अपनी यह सेवा जारी रख पाएगी।

लेकिन इस बीच हम आपको यह जरुर बताना चाहेंगें कि RailYatri के कुल राजस्व का लगभग 20% हिस्सा इसकी ऑनलाइन फ़ूड ऑर्डरिंग  सेवाओं से ही आता है।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *