लॉजिस्टिक स्टार्टअप Rivigo ने SAIF Patners और Warburg Pincus से जुटाई $ 65M फंडिंग

  • by Yogesh
  • July 11, 2019

लॉजिस्टिक्स स्टार्टअप रिविगो (Rivigo) ने अपने मौजूदा निवेशकों SAIF पार्टनर्स (SAIF Partners) और वारबर्ग पिंकस (Warburg Pincus) से सीरीज ई फंडिंग राउंड में $ 65 मिलियन का फंड जुटाया है। स्टार्टअप इस फंड का उपयोग अपनी प्रौद्योगिकी और नेटवर्क कवरेज (network coverage) को और मजबूत करने के लिए करेगा, जो देश में बड़े लॉजिस्टिक बाजार (logistics market) के लिए एक महत्वपूर्ण गेम चेंजर है।

स्टार्टअप ने सभी व्यावसायिक वर्टिकल (business verticals) में अपने वित्तीय मैट्रिक्स में सुधार करने का दावा किया है, और इसका उद्देश्य इस वित्तीय वर्ष के अंत तक लाभदायक होना है। गति को जोड़ते हुए, स्टार्टअप ने हाल ही में बड़े पैमाने पर असंगठित लॉजिस्टिक्स स्पेस (logistics space) में पारदर्शिता लाने के लिए, नेशनल फ्रेट इंडेक्स (एनएफआई) (National Freight Index (NFI)) शुरू किया है।

READ  इस हफ़्ते हुए कुछ भारतीय स्टार्टअप में बड़े निवेश

गौरतलब है कि रिविगो (Rivigo) भारत में 29,000 से अधिक पिन कोड के नेटवर्क कवरेज का दावा करता है।

इस फंडिंग के बारे में जानकारी देते हुए रिविगो (Rivigo) के संस्थापक और सीईओ दीपक गर्ग ने कहा कि,

“हम लॉजिस्टिक्स ह्यूमन और डिजिटल बनाने के लिए अपने मिशन पर काम कर रहे है। रिले ट्रकिंग (Relay trucking) अब बहुत अच्छी तरह से स्थापित है जहां रिले ट्रक पायलट बेहतर जीवन जीते हैं और ग्राहकों को असाधारण सेवा मिलती है। प्रौद्योगिकी और फ्रेट मार्केटप्लेस के साथ, हम अब देश के हर ट्रक में रिले लाना चाहते हैं।,”

गौरतलब है कि जब ईकॉमर्स उद्योग ने भारत में उड़ान भरी, तो एक क्षेत्र जिसे तुरंत प्रमुखता मिली, वह था लॉजिस्टिक्स स्पेस (logistics space), क्योंकि ऑनलाइन रिटेलर्स को कुशल बिजनेस-टू-कंज्यूमर (बी 2 सी) (business-to-consumer (B2C)) सप्लाई चेन सॉल्यूशंस प्रदान करने के लिए स्टार्टअप्स की भीड़ लगी। अब, बड़े लेकिन खंडित लॉजिस्टिक्स क्षेत्र एक बार फिर से निवेशकों और स्टार्टअप के लिए समान रूप से उभर रहे हैं।

READ  बंद हुई 'Paytm Inbox' इन-ऐप चैट सेवा, विजय शेखर शर्मा ने ट्विटर पर किया ऐलान

ट्रकफर्स्ट (TruckFirst) के रूप में 2014 में स्थापित गुरुग्राम स्थित रिविगो (Rivigo) ने विशेष रूप से अपने रिले ट्रकिंग मॉडल (relay trucking model) के साथ इनोवेशन किया है, जो यह सुनिश्चित करता है कि चालक ब्हील पर अधिकतम चार-पांच घंटे तक  रहे और उसी दिन घर पहुंचें।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *