जल्द ही Jio TV, Jio Cinema, Jio Music के इस्तेमाल के लिए देने होंगे पैसे

  • by Ashutosh Kumar Singh
  • September 29, 2018

कम दाम या फ़िर कहें तो अपनी फ़्री सुविधाओं के चलते रिलायंस जियो (Reliance Jio) अत्यंत कम  समय में ही देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी बन चुकी है। अपनी सस्ती सेवाओं के साथ ही कंपनी द्वारा हर क्षेत्र में पैठ बनाने हेतु निकली गई ऐप सुविधाओं ने भी लोगो को ख़ूब आकर्षित किया, और वह इसलिए भी क्यूंकि पहले से ही कम दाम में मिल रहे जियो डाटा और वॉयस कॉल जैसी सुविधाओं के साथ एक अतिरिक्त ऐप सुविधाओं का सब्सक्रिप्शन मुफ़्त में दिया जाता है।

लेकिन अब इन मुफ़्त सुविधाओं का लाभ शायद ही उपयोगकर्ता ज्यादा दिनों तक उठा पाए। जी हाँ! रिलायंस जियो टारगेट्स डिजिटल कंटेंट लीडरशिप रिपोर्ट के अनुसार, आगामी समय में कंपनी Jio TV, Jio Cinema, Jio Music जैसी ऐप्स के इस्तेमाल हेतु उपयोगकर्ताओं से चार्ज लेने के प्रावधान शुरू कर सकती हैं।

READ  लोकसभा चुनाव के 2 दिन पहले से FB और Google को बंद करने होंगें सभी राजनीतिक विज्ञापन: चुनाव आयोग

दरसल इस रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी अब तक चले आ रहें, अपने फ्री मॉडल को एक ‘Freemium’ मॉडल में परिवर्तित करने पर विचार कर रही है। हम आपको बता दें कि इस Freemium मॉडल के अंतर्गत जहाँ उपयोगकर्ताओं को कुछ बुनियादी सुविधाएं फ्री में दी जायेंगी, वहीँ कुछ ख़ास या प्रीमियम सामग्रियों के लिए उपयोगकर्ताओं को कुछ रकम अदा करनी पड़ेगी।

इस बीच कंपनी ने अभी तक यह सार्वजानिक नहीं किया है कि बुनियादी और प्रीमियम श्रेणी में किन किन ऐप्स इत्यादि सुविधाओं को जगह दी गई है, लेकिन ख़बरों के मुताबिक कंपनी जल्द ही इसका ऐलान कर सकती है।

READ  'Reliance Jio' ने जारी की 'ई-कॉमर्स ऐप', संगठित खुदरा बाज़ार में बड़े बदलाव के आसार

लेकिन यह बात तो साफ़ है, वॉयस कॉल और डाटा सुविधाओं के साथ ही Jio ऐप्स ने भी उपयोगकर्ताओं के बीच काफ़ी लोकप्रियता अर्जित क्र ली है। अब बस देखने वाली बात यह होगी कि एक बार भुगतान मॉडल अपनानें के बाद, बाज़ार में मौजूद अन्य विकल्पों के बीच क्या Jio वही मुकाम हासिल कर पायेगा या नहीं?

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram