आई केयर चेन Disha Medical Services ने सीरीज C फंडिंग राउंड में जुटाया $4M फंड

  • by Yogesh
  • August 22, 2019

बेंगलुरु स्थित दिशा मेडिकल सर्विसेज (Disha Medical Services) इंसिटर इंम्पेक्ट एशिया फंड (Insitor Impact Asia Fund) और नीलेकणी परिवार कार्यालय (Nilekani Family Office) (एंट्रेंस परिवार कार्यालय द्वारा प्रबंधित) और एचएनआईएस (HNIs) से 4 मिलियन डॉलर की सीरीज़ फंडिंग जुटाई है।

बता दें कि दिशा मेडिकल सर्विसेज (Disha Medical Services)  ब्रांड नाम द्रष्टि (Drishti) के तहत काम करती है, और भारत के दक्षिणी क्षेत्र में अंडरस्कोरेटेड बाजारों में सस्ती नेत्र देखभाल प्रदान करती है। जिसने निधि, नीलेकणी परिवार कार्यालय (एंट्रेंस परिवार कार्यालय द्वारा प्रबंधित) और अन्य एचएनआई।

दिशा मेडिकल सर्विसेज (Disha Medical Services)  इस फंडिंग का उपयोग 10 से अधिक अस्पतालों, दृष्टि केंद्रों और मोबाइल नेत्र क्लीनिकों (mobile eye clinics) के निर्माण के साथ-साथ अन्य राज्यों में रणनीतिक विस्तार करने के लिए मौजूदा क्षेत्र में अपनी स्थिति को और मजबूत करने के लिए करेगी।

READ  UClean ने किया गुरुग्राम आधारित लांड्री सेवा 'Laundry Village' का अधिग्रहण

वहीं इस फंडिंग के बारे में जानकारी देते हुए दीशा मेडिकल सर्विसेज (Disha Medical Services)  की सीईओ किरण आनंदमपिल्लई ने कहा कि,

“मरीजों को सबसे बड़ा लाभ होगा क्योंकि यह दौर हमें कर्नाटक में उच्च गुणवत्ता वाले नेत्र देखभाल के साथ लाखों लोगों की सेवा करने में सक्षम करेगा।”

दीशा मेडिकल सर्विसेज (Disha Medical Services) की सेथापना 2008 में अंजलि जोशी, किरण आनंदमपिल्लई और डॉ.राजेश बाबू द्वारा की गई थी। वहीं द्रष्टि (Drishti) ने 2012 में सर्व कैपिटल (Sarva Capital) से सीड फंडिंग जुटाई थी। इसके बाद, इसे क्रमशः सीरीज ए एंड बी राउंड में सर्व कैपिटल (Sarva Capital) और निलेकणि ऑफिस (Nilekani Office) से फंडिंग जुटाई है।

गौरतलब है कि द्रष्टि (Drishti) वर्तमान में कर्नाटक के विभिन्न शहरों में छह नेत्र अस्पतालों (eye hospitals), छह मोबाइल नेत्र चिकित्सालयों (mobile eye clinics) और चार दृष्टि केंद्रों (vision centres) का प्रबंधन करती है। कंपनी ने इन स्थानों पर 4.6 लाख से अधिक रोगियों का इलाज किया है।

READ  2020 तक भारत में सभी लोगों के पास होगी 4G कनेक्टिविटी: मुकेश अंबानी

वहीं इस निवेश पर टिप्पणी करते हुए इंसिटर इंडिया (Insitor India) कंट्री हेड अभिजीत नाथ ने कहा कि,

“Drishti के एक स्थायी, स्केलेबल मॉडल के निर्माण पर अधिक ध्यान केंद्रित किया गया है, जो लाखों hitherto unserved patients को सस्ती नेत्र देखभाल प्रदान कर सकता है, हमारे लिए एक अत्यंत सम्मोहक अवसर था। यह निष्पक्ष रूप से एशिया में हमारे निवेश के दौरान कम आय वाले उपभोक्ताओं के लिए समावेशी बाज़ार के निर्माण, निष्पक्ष के मिशन के साथ निकटता से जुड़ता है। “

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *