flipkart-india-receives-rs-1616-cr-from-holding-entity

Flipkart India को मिले 1,616 करोड़ रुपये, त्योहारों के मद्देनज़र ई-कॉमर्स बाज़ार के सक्रीय होने के संकेत

भारत में ई-कॉमर्स तमाम अटकलों और विचारों के बाद भी खुद में कितनी संभावनाएं समेटे हुए हैं, उसका अंदाज़ा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि आज भी Flipkart और Amazon जैसी दिग्गज़ कंपनियों में नए और मौजूदा निवेशक पैसे लगाने में जरा भी हिचक नहीं दिखा रहें हैं

और TechSamvad की इसी सोच का समर्थन करते हुए फ्लिपकार्ट इंडिया (Flipkart India) इसका ताज़ा उदाहरण बनकर सामने आई है। दरसल वॉलमार्ट के स्वामित्व वाली इस ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस ने अपनी सिंगापुर स्थित मूल इकाई – फ्लिपकार्ट प्राइवेट लिमिटेड से 1,616 करोड़ रुपये प्राप्त किए हैं।

MCA के साथ RoC फाइलिंग के अनुसार, इस निवेश के लिए फ्लिपकार्ट (Flipkart) ने अपनी होल्डिंग इकाई को 34,800 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से 4,64,403 इक्विटी शेयर आवंटित किए हैं। इस बीच हम आपको यह भी बता दें कि जनवरी में भी कंपनी को अपनी मूल इकाई से 1,431 करोड़ रुपये का निवेश मिला था।

अटकलें यह हैं कि Flipkart को मिला यह निवेश आगामी बड़े त्यौहारों को देखते हुए दिया गया है। दरसल Flipkart और Amazon भारत में मुख्यतः दिवाली को लेकर हमेशा से उत्साहित नज़र आती हैं। इस त्यौहार में स्वाभाविक तौर पर बिक्री बढ़ जाती है। ऐसे में ये दोनों दिग्गज कंपनियां अपनी आकर्षक सेल इत्यादि के जरिये और भी अधिक लोगों को आकर्षित करने के प्रयास करती हैं।

और अपनी इसी श्रृंखला में एक ओर जहाँ Flipkart की बिग बिलियन डे सेल 2019 की शुरुआत 29 सितंबर से 2 अक्टूबर तक तय कर दी गई है, वहीं दूसरी ओर Amazon ने भी अपनी आगामी ग्रेट इंडियन फेस्टिवल बिक्री की घोषणा कर दी है, जिसके सितंबर के अंत तक शुरू होने की उम्मीद है।

READ  Zoomcar India को पैरेंट कंपनी से मिला 14 करोड़ का निवेश

दरसल यह कंपनियां इन सेल के दौरान टीवी, रेडियो, अख़बारों इत्यादि माध्यमों में प्रचार के लिए भी भारी राशि खर्च करती हैं। और आज के दौर में जब आपकी प्रतिद्वंदिता Amazon जैसी दिग्गज़ कंपनी से हो, और वो भी भारतीय उपभोगताओं के लिए, तो प्रचार प्रसार या कहें तो मार्केटिंग का बजट स्वाभाविक रूप से बढ़ ही जाता है।

हालाँकि अब देखना है यह है कि इतनी बड़ी राशि का इस्तेमाल Flipkart किस प्रकार से करती है? इस बीच आप भी हमें नीचे कमेंट बॉक्स में बताएं कि आपके अनुभवों के अनुसार Flipkart व Amazon में से कौन सी कंपनी भारतीय उपभोगताओं के लिहाज़ से उचित है?   

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *