Google Pay पर अब पेमेंट के लिए कर सकतें हैं Debit या Credit कार्ड का इस्तेमाल

भारतीय ऑनलाइन पेमेंट बाज़ार कितना अहम है इसका अंदाज़ा आप इस बात से लगा सकतें हैं कि दुनिया की तकनीकीदिग्गज़ कहीं जाने वाली कंपनियां Google और Facebook अपनी अपनी पेमेंट सेवाओं के विस्तार के लिए दिन रात प्रयास करती नज़र आती हैं।

और अब Google Pay के इसी दिशा में किये जा रहें प्रयासों का परिणाम है कि अब Google Pay ने अपने भारतीय उपयोगकर्ताओं को भुगतान करने के लिए डेबिट या क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने की भी सहूलियत देने जा रहा है।

जी हाँ! एक मुख्य अपडेट के तहत भारत में Google Pay अब टोकन कार्डों का समर्थन करेगा जो क्रेडिट या डेबिट कार्ड के माध्यम से सुरक्षित भुगतान की सुविधा प्रदान करेगा।

आपको बता दें कि अब तक, भुगतान एप्लिकेशन उपयोगकर्ताओं के बैंक खातों के माध्यम से UPI- आधारित भुगतान का उपयोग करता है।

इस सुविधा के तहत, उपयोगकर्ताओं को भुगतान करते समय वास्तविक कार्ड नंबर दर्ज करने की आवश्यकता नहीं है। पंजीकृत कार्ड को प्रमाणित करने के बजाय यह एक रैंडम टोकन जेनरेट करता है। यह टोकन तब विक्रेता या व्यापारी को भुगतान पूरा करने के लिए भेजा जाता है। भुगतान पूरा होते ही टोकन समाप्त कर दिया जाता है।

नई दिल्ली में एक कार्यक्रम में, Google ने घोषणा की कि अगले कुछ हफ्तों में टोकन कार्ड की सुविधा Google Pay में आ जाएगी। हालाँकि प्रारंभ में Google Pay केवल HDFC Bank, Axis Bank, Kotak Mahindra Bank और Standard Chartered द्वारा वीज़ा कार्ड का ही समर्थन करेगा।

लेकिन Mastercard और Rupay cards के इस्तेमाल को शुरू करने के लिए कंपनी आपको महीनें भर का इंतजार और करवा सकती है।

Google ने Spot Code बनाने के लिए व्यवसायों हेतु Spot Platform भी पेश किया है। दरसल Spot Code ऑफ़लाइन लेनदेन के लिए एक कस्टम विज़ुअल कोड या एनएफसी टैग होता है। ग्राहक विज़ुअल कोड को QR कोड की तरह स्कैन कर सकते हैं, या उस पर टैप कर सकते हैं।

हालाँकि इसके लिए उनके पास Google Pay पर व्यवसाय के Spot तक पहुंचने के लिए NFC- सक्षम स्मार्टफ़ोन आवश्यक होगा। हालाँकि एक संदेश सेवा के माध्यम से भी एक स्पॉट साझा किया जा सकता है। UrbanClap, Goibibo, MakeMyTrip, RedBus, Eat.Fit और Oven Story पहले से ही स्पॉट प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध हैं।

इस दौरान Google ने छोटे और मध्यम आकार के व्यापारियों के लिए Google Pay for Busines नामक एक नए एप्लिकेशन की भी घोषणा की। दरसल यह ऐप इन व्यवसायों को समय पर खपत और सत्यापन प्रक्रिया की परेशानी के बिना डिजिटल भुगतान को सक्षम करने की अनुमति देता है।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *