June 1, 2020
  • facebook
  • twitter
  • linkedin

Healthkart को मिल रहा है 173 करोड़ रूपये का निवेश, बेल्जियम आधारित Advent Management की पहल

इस बात में कोई दोहराय नहीं कि वर्तमान समय में दुनिया के साथ ही साथ देश में स्वास्थ्य संबंधी जागरूगता बढ़ रही है। और इसी के साथ ही देस हमें हेल्थकेयर क्षेत्र से जुड़े स्टार्टअप की भी संभावनाओं को बल मिल रहा है।  

और इन्ही संभवनाओं को देखते हुए निवेशक भी लगातार ही देश के हेल्थकेयर क्षेत्र से जुड़े स्टार्टअप्स को लगातार ही निवेशकों का समर्थन मिलते नज़र आ रहा है।

और अब इसी श्रृंखला हेल्थकेयर क्षेत्र में खुद को एक निर्माता और खुदरा विक्रेता के रूप में स्थापित करने के बजाए इस क्षेत्र का एक पूर्ण स्टैक ओमेनिनेल बिजनेस बन चुका HealthKart एक बार फ़िर से बड़ा निवेश हासिल करने जा रहा है।

जी हाँ! The Social Digital की खबर के मुताबिक Healthkart जल्द ही अपने इस नए सफ़ल निवेश दौर का ऐलान कर सकती है। इस दौर में कंपनी बेल्जियम आधारित Advent Management से कुल 173 करोड़ रूपये (लगभग 25 मिलियन डॉलर) का निवेश हासिल कर सकती है।

दिलचस्प बात यह है कि यह कंपनी लगातार ही अपने आयामों के प्रसार के उद्देश्य के चलते फंडिंग जुटाने में कामयाब नज़र आई है। HealthKart ने अक्टूबर 2018 में IIFL Alternate Asset Advisors (IIFL Holdings) और सिकोइया कैपिटल (Sequoia Capital) से 89.5 करोड़ रुपये की फंडिंग हासिल की थी।

जिसके तीन महीने के बाद ही HealthKart को वापस काइस्टाइल कैपिटल (Kalysta Capital) के नेतृत्व वाले निवेश दौर में 65 करोड़ रुपये का निवेश प्राप्त हुआ था।

इसके कुछ ही समय बाद गुलु लालचंद मीरचंदानी ने सीरीज़ F दौर में कंपनी में 3 करोड़ रुपये का निवेश किया था। और यह सिलसिला यही नहीं रुका, बल्कि इसके बाद अखिल और आशीष धवन ने क्रमशः HealthKart में 70.76 लाख रुपये और 4.24 करोड़ रुपये का निवेश किया था।

इसके साथ ही द योग फैमिली फाउंडेशन ने सीरीज F दौर में 14 करोड़ रुपये के निवेश दौर का नेतृत्व किया था। जिसके चलते सामूहिक रूप से दिसंबर 2018 में हेल्थकार्ट (HealthKart) ने 21 करोड़ रुपये (लगभग 3 मिलियन डॉलर) का निवेश अर्जित करने में सफ़लता प्राप्त की थी।

और अब बेल्जियम आधारित कंपनी से 173 करोड़ रुपये (लगभग $25 मिलियन) का बड़ा निवेश। ऐसा लगता है मानो HealthKart निवेश हासिल करने की ललक रखने वाले स्टार्टअप्स के लिए गुरु सामान हो जाएगा। 

बहरहाल! देखना यह है कि इस बड़े निवेश का इस्तेमाल कंपनी किस प्रकार से करती है। इस धन के इस्तेमाल पूर्ण रूप से देश में ही अपने आयामों का विस्तार करने के लिए या फ़िर अन्य देशों में भी संभावनाएं तलाशने के लिए किया जाएगा?   

amicableashutosh@gmail.com'

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *