बेंगलुरु के ‘होटल एसोसिएशन’ ने पुलिस कमिश्नर से की OYO के ख़िलाफ़ ‘धोखाधड़ी’ की शिकायत

बेंगलुरु में एक होटल व्यवसायी संगठन ने सिटी पुलिस आयुक्त भास्कर राव को ऑनलाइन होटल बुकिंग प्रदाता OYO Hotels & Homes की जांच के लिए एक शिकायत पत्र सौंपा है।

Bruhat Bengaluru Hotels Association के कुछ सदस्यों द्वारा 12 सितंबर को इसी मुद्दे पर ईस्ट एस मुरुगन से मुलाकात के बाद धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए यह पत्र सौंपा गया है।

इस मुद्दे पर TNM से बात करते हुए, एसोसिएशन के अध्यक्ष पीसी राव ने कहा,

“OYO के साथ कई मुद्दे हैं। हमारे एसोसिएशन के कई सदस्य OYO की सेवाओं से अलग हो चुकें हैं, लेकिन फ़िर भी हमें अपना भुगतान नहीं मिला है। कुछ मामलों में, भुगतान में बहुत देरी हुई है और कुछ मामलों में तो अभी तक कोई भुगतान नहीं हुआ है।”

“इसके साथ ही कई होटलों के साथ OYO ने क़रार किया था कि एक दिन के लिए 1,000 रुपये से कम में कमरे को किराए पर नहीं दिए जायेंगें लेकिन OYO ने इस समझौते का भी पालन नहीं किया है, और न ही उन्होंने होटल मालिकों को किसी तरह का मुआवजा दिया है। ऐसे और भी कई मामलें हैं और इसीलिए हम चाहतें हैं कि कमिश्नर इसकी जांच करें।”

इस बीच एसोसिएशन का दावा है कि हाल के ही महीनों में 100 से अधिक होटल सदस्यों ने OYO से LogOut कर दिया है और पूरे राज्य में लगभग ऐसी ही स्थिति है। हालांकि इस मुद्दे में OYO का दावा है कि कोई भी औपचारिक शिकायत नहीं की गई थी।

इसके साथ ही दिलचस्प यह है कि यह सब तब हो रहा है जब व्हाइटफील्ड पुलिस ने शहर के एक होटल व्यवसायी की शिकायत के बाद OYO के सीईओ और संस्थापक रितेश अग्रवाल और अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी और आपराधिक विश्वासघात का मामला दर्ज किया था।

राजगुरु शेल्टर होटल्स के मालिक नटराजन ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि कंपनी ने प्रत्येक बुकिंग में सिर्फ़ 20% कमीशन लेने के एक समझौते का उल्लंघन किया और इस प्रक्रिया में उन्हें 1 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *