zomato-plans-to-enter-500-new-cities-techsamvad-hindi-news

Zomato के खिलाफ़ चल रहे #Logout कैंपेन राष्ट्रीय स्तर पर फैला

Zomato के इए मुश्किलें बीते कुछ समय से थमने का नाम नहीं ले रहीं हैं। दरसल अब नेशनल रेस्तरां एसोसिएशन ऑफ इंडिया (NRAI) को अपने इस अभियान में भारत के कुछ प्रमुख रेस्टोरेंट समूहों का समर्थन मिलने लगा है।

जी हाँ! नेशनल रेस्तरां एसोसिएशन ऑफ इंडिया (NRAI) ने ही अगस्त में Zomato के Gold Membership प्रोग्राम को लेकर ट्विटर पर #LogOut कैंपेन की शुरुआत की थी, जिसने तभी एक व्यापक रूप ले लिया था।

दरसल अब NRAI को फ़ेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया (FHRAI) का भी समर्थन मिल गया है। अपने एक वक्तव्य में FHRAI ने कहा कि वह #LogOut कैंपेन का समर्थन करता है और शहरों में यह इस अभियान को और भी प्रमुखता से आगे बढ़ाएगा। 

FHRAI ने यह भी कहा कि इस #LogOut कैंपेन में कई शहरी और साझेदार रेस्टोरेंट का भागीदारी करना साफ़ दर्शाता है कि उन्हें कंपनी के नियमों से कितनी तकलीफ हैं। 

इस समर्थन की घोषणा आज बुधवार (16 अक्टूबर) को मुंबई में आयोजित एक संयुक्त कार्यक्रम में की गई। FHRAI के साथ, AHAR, ठाणे होटल एसोसिएशन, पुणे रेस्टोरेंट्स एंड होटल एसोसिएशन (PRAHA), NHRA, वडोदरा फूड एंटरप्रेन्योर्स (VFE) जैसे कई अन्य संघ भी #Logout आंदोलन में एकजुट हो गए हैं।

दिलचस्प बात यह है कि बुधवार की घोषणा सभी फूड एग्रीगेटर्स और रेस्तरां डिस्कवरी प्लेटफॉर्म्स के उद्देश्य से थी, लेकिन प्रेस विज्ञप्ति में नाम से उल्लेखित एकमात्र कंपनी दीपिंदर गोयल के नेतृत्व वाली Zomato थी।

संघों ने कहा कि वे एग्रीगेटरों द्वारा डिज़ाइन किए गए भारी छूट और “लोभ-पक्षीय” समझौतों का विरोध कर रहे थे। एफएचआरएआई के उपाध्यक्ष गुरबख्श सिंह कोहली ने कहा,

“एग्रीगेटर्स उद्योग पर हावी नहीं हो सकते हैं यह हानिकारक और नकारात्मक रूप से उद्योग के विकास या मुनाफे को प्रभावित करते हैं।”

दोनों उद्योग निकायों ने एग्रीगेटर्स द्वारा निजी लेबल के मुद्दे को भी उठाया, भुगतान में देरी और समझौते में मनमाना परिवर्तन भी इनके विरोध का मुद्दा रहा।

READ  भारत में Paytm का ई-कॉमर्स सपना चकनाचूर, हुआ भारी नुकसान

NRAI अगस्त से लगातार Zomato, Swiggy, EazyDiner, Dineout और अन्य फूडटेक स्टार्टअप्स के साथ बातचीत कर रहा है और मामले के करीबी सूत्रों के अनुसार उसने Zomato को छोड़कर सभी पक्षों के साथ अपने मुद्दों को सुलझा लिया है।

आपको बता दें कि #LogOut कैंपेन की शुरुआत 14 अगस्त को हुई थी जब NRAI के तहत 300 रेस्तरां ने हैशटैग #Logout के साथ एक ट्विटर अभियान शुरू किया था, जिसमें घोषणा की गई थी कि वे खुद को Zomato Gold, EazyDiner, Dineout’s Gourman Passport, Nearbuy, MagicPin जैसे प्लेटफार्मों से हटा रहे हैं।

हालाँकि, तब से कई प्लेटफार्मों जैसे कि DineOut इत्यादि ने अपनी डिस्काउंटिंग नीति में बदलाव की घोषणा की है और रेस्तरां को वापस लॉग इन करने के लिए पुरस्कार प्रणालियों को भी पेश किया था।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *