4 महीनें के भीतर एक और को-फ़ाउंडर ने छोड़ा NestAway का साथ

बेंगलुरु स्थित होम रेंटल स्टार्टअप NestAway के लिए समय शायद सही नहीं चल रहा, शायद यही वजह है कि कंपनी को बनाने वाले लोग ही कंपनी का साथ छोड़ते नज़र आ रहें हैं।

जी हाँ! महज़ चार महीने के भीतर अब एक और को-फाउंडर ने दीपक धर के बाद कंपनी का साथ छोड़ने का फ़ैसला किया है। अपने लिंक्डइन पोस्ट के माध्यम से NestAway के को-फाउंडर और मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी (CTO) स्मृति परीदा ने कहा कि वह अपनी भूमिका से इस्तीफ़ा दे रहें हैं।

हालांकि उसी पोस्ट में उन्होनें यह भी कहा कि NestAway के शुभचिंतक और चीयरलीडर के रूप में अपना सहयोग देते रहेंगें।

आपको बता दें कि जुलाई में दीपक धर के कंपनी छोड़ने के समय यह कहा गया था कि कंपनी में कई बदलाव चल रहे हैं, जिनमें व्यवसाय वर्टिकल में विस्तार और को-फ़ाउंडर्स के बीच एक अधिक सुव्यवस्थित व्यापार फ़ोकस भी शामिल है।

READ  Microsoft ने पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान अनिल कुंबले के 'Spektacom' के साथ की साझेदारी

आपको बता दें फ़िलहाल NestAway में सीईओ के रूप में अमरेंद्र साहू और सीओओ के रूप में जितेंद्र जगदेव कार्यरत हैं। NestAway नामक इस स्टार्टअप की नींव जनवरी 2015 में अमरेंद्र साहू, स्मृति परिदा, दीपक धर और जितेंद्र जगदेव ने रखी थी।

यह कंपनी होम रेंटल के लिए एक ऑनलाइन मार्केटप्लेस है जो पूर्ण रूप से सुसज्जित और प्रबंधित अपार्टमेंट को पूर्ण घरों को बदल देती है और उन्हें पूर्व-सत्यापित किरायेदारों को किराए पर देती है।

इस स्टार्टअप के अनुसार वर्तमान में कंपनी बेंगलुरु, दिल्ली, फरीदाबाद, गाजियाबाद, ग्रेटर नोएडा, गुरुग्राम, हैदराबाद, नोएडा, मुंबई और पुणे सहित 10 विभिन्न भारतीय शहरों में अपना संचालन कर रही है और इसके पास 39,600 किरायेदार हैं।

साथ ही अब तक NestAway ने Tiger Global जैसे निवेशकों से $110.2 मिलियन से अधिक का निवेश जुटाया हैं। कंपनी का दावा है कि हर महीने राजस्व के लिहाज़ से यह $2 मिलियन से अधिक की कमाई करती है।

कंपनी की योजना अगले 12 महीनों में महिलाओं के आवास और वरिष्ठ जीवन प्रबंधन में प्रवेश करने की है। NestAway ने हाल ही में अपनी सह-जीवित और छात्र रहने वाली संस्था Hello World के लिए $ 10 Mn का निवेश किया है।

READ  WhatsApp का दावा सरकार को सितंबर में ही Pegasus के बारे दी गई थी जानकारी

अप्रैल 2019 में लॉन्च किया गया Hello World वर्तमान में बेंगलुरु, हैदराबाद, दिल्ली-एनसीआर, पुणे, कोटा और मुंबई सहित 15 शहरों में सक्रिय है। पिछले पांच महीनों में Hello World. ने 90% की अधिभोग दर के साथ 10K बेड होने का दावा किया है।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *