Ola करेगा ‘दवाओं की डिलीवरी’, कर सकता है बैंगलुरू आधारित Myra Medicine का अधिग्रहण

भारतीय कैब प्रदाता कंपनी, ओला (Ola) अब देश में बाज़ार के अलग अलग आयामों में ख़ुद को स्थापित करने का प्रयास करती नज़र आ रहीं है। 

अपनी इन्हीं कोशिशों की श्रृंखला में कुछ ही महीनें पहले ओला (Ola) ने स्कूटर-शेयरिंग स्टार्टअप, वोगो (Vogo) में 700 करोड़ रूपये का निवेश किया है।

लेकिन महज़ इतने से ही यह कैब प्रदाता फर्म संतुष्ट होती नज़र नहीं आ रही है। अब एक नई सेवा के आगाज़ के तहत भावेश अग्रवाल के नेतृत्व वाली Ola दवाओं की डिलीवरी करने की योजना बना रही है।

Myra Medicine का करेगी अधिग्रहण

जी हाँ! सही सुना आपने, Ola डोर-टू-डोर मेडिसिन (दवाओं) की डिलीवरी करने संबंधी दिशा में कार्य कर रही है। सूत्रों के मुताबिक इसके लिए Ola इसी सिलसिले में बैंगलुरू आधारित माइरा मेडिसिन (Myra Medicine) के अधिग्रहण की संभावनाएं भी तलाश रही है।

इस बात में कोई शक नहीं की देश में दवा वितरण क्षेत्र अभी भी व्यापक रूप से संगठित नज़र नहीं आता है। और इसी के चलते इस क्षेत्र में अभी संभावनाओं की भरमार है। और Ola इसी समय का लाभ उठा, इस क्षेत्र में अपनी पैंठ स्थापित करना चाहती है।

READ  Netflix जल्द ही भारत में लॉन्च कर सकता है मुफ़्त सेवा

चार साल पुराना माइरा मेडिसिन (Myra Medicine) एक बैंगलुरू आधारित स्टार्टअप है। यह दवाओं, शिशु देखभाल उत्पादों, दंत चिकित्सा और स्वच्छता उत्पादों जैसी श्रेणियों में एक इन्वेंट्री आधारित बिज़नेस मॉडल पर कार्य करता है। यह स्टार्टअप एक घंटे के भीतर दवा डिलीवर करने का दावा करता है।

इसके वर्तमान निवेशकों में मैट्रिक्स (Matrix), टाइम्स इंटरनेट (Times Internet) और ड्रीम इनक्यूबेशन (Dream Incubation) जैसे बड़े नाम शामिल हैं।

निवेशक फर्म Matrix करवा रहा है यह डील

खबर यह है कि Ola और Myra Medicine के कॉमन निवेशक, मैट्रिक्स (Matrix) ही इस डील को संचालित कर रहा है। और कुछ ही हफ़्तों में अधिकारिक रूप से इसका ऐलान कर दिया जाएगा।

इस अधिग्रहण के बाद एक ओर जहाँ Ola एक नए क्षेत्र में अपना प्रसार करता नज़र आएगा। वहीँ Myra Medicine को भी प्रतिस्पर्धी के स्थ कई स्थानों पर मुक़ाबला करने में सहूलियत मिलेगी।

READ  सड़क दुर्घटना पीड़ितों की मदद के लिए दिल्ली सरकार के साथ आए Ola और Uber

दिल्ली कोर्ट लगा चुका है ऑनलाइन दवाओं की बिक्री पर देशव्यापी प्रतिबंध

इस बीच हम आपको बता दें कि वर्तमान समय में भारत में ऑनलाइन दवाओं की डिलीवरी करने में PharmEasy, 1mg, Netmeds और LifCare जैसे कुछ बड़े खिलाड़ी पहले से ही बाज़ार में हैं। ऐसे में Ola के लिए ये राह इतनी भी आसान होने वाली नहीं है। सूत्रों के मुताबिक Ola अपने फ़ूड डिलीवरी वाले फ्लीट का ही इस्तेमाल दवाओं की डिलीवरी के लिए भी करेगी।

वैसे शायद आपको याद ही कि पिछले ही महीनें दिल्ली उच्च न्यायालय ने ई-फार्मेसियों और दवाओं की ऑनलाइन बिक्री पर देशव्यापी प्रतिबंध लगा दिया था। और मंगलवार को कोर्ट ने फिर कहा है कि यह प्रतिबंध सुनवाई की अगली तारीख मतलब 6 फरवरी तक जारी रहेगा।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *