ब्रेकिंग: Ola के सह-संस्थापक अंकित भाटी छोड़ सकतें हैं CTO का पद: रिपोर्ट

जब भी Ola का जिक्र आता है तो अक्सर अधिकतर लोग हम इसके संस्थापक के रूप में भाविश अग्रवाल का नाम ही जानते हैं। लेकिन क्या आपको पता हैं कि कंपनी के संस्थापक सदस्यों में अंकित भाटी भी शुमार हैं।

जी हाँ! अंकित हमेशा ही बहुत कम सुर्ख़ियों में नज़र आते हैं, जिसके चलते उनके नाम से अधिकतर लोग वाकिफ़ नहीं होंगें। लेकिन कंपनी में उनका योगदान कभी भी नज़रंदाज़ नहीं किया जा सकता है।

लेकिन आज अंकित भाटी से जुड़ी एक खबर देखने को मिली है। दरसल राइड-हेलिंग स्टार्टअप Ola के सह-संस्थापक और सीटीओ अंकित भाटी ने कथित तौर पर कंपनी की परिचालन भूमिका छोड़ दी है।

कंपनी में मुख्य तौर पर प्रौद्योगिकी और बैकएंड संचालन की कमान संभालने वाले भाटी पिछले दो महीनों से कार्यालय में नहीं आ रहे हैं और न ही दिन-प्रतिदिन के कार्यों में शामिल हो रहे हैं।

मनीकंट्रोल की एक रिपोर्ट के अनुसार भाटी के इस फैसले के मुख्य कारणों में से एक खुद कंपनी के सीईओ भाविश अग्रवाल हैं। दरसल कहा ये जा रहा है कि Ola Eelctric परियोजना के लिए भाटी को मूल इकाई ANI Technologies में एक छोटे हिस्से को छोड़कर किसी भी हिस्सेदारी की पेशकश नहीं की गई थी।

वहीँ भाविश अग्रवाल ने 92% Ola Electric को 92, 500 रुपये में खरीदा था। यह ध्यान देने योग्य है कि Ola Electric ने अग्रवाल के हिस्सेदारी अधिग्रहण के कुछ ही हफ्तों बाद Softbank, Tiger Global और Matrix से फंडिंग हासिल कर खुद को यूनिकॉर्न में बदल दिया था।

और सूत्रों के हवाले से यह बात भाटी को पसंद नहीं आई और उन्होंने दिन-प्रतिदिन के ऑपरेशन से खुद को दूर करना शुरू कर दिया। सूत्रों ने आगे बताया कि दोनों सह-संस्थापकों के बीच समस्याएं FoodPanda और Ola के एकीकरण के समय शुरू हुईं थी।

READ  $6 बिलियन होगी Ola की वैल्यूएशन, जल्द हासिल कर सकता है एक बड़ा निवेश

उस समय कुछ तकनीकी गड़बड़ियां सामने आईं और चर्चा का विषय बन गईं, जहां अग्रवाल ने कथित तौर पर आपा खो दिया था और भाटी के साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया था।

लेकिन अब भाटी के इस कदम के बाद Ola की नेतृत्व टीम को एक बड़ा नुकसान हो सकता है। खासकर ऐसे वक़्त जब राइड-हाइलिंग फर्म विस्तार के लिए और अधिक धन जुटाना चाह रही है।

दरसल भारत में Ola का सबसे बड़ा प्रतिद्वंदी अब बाज़ार हिस्सेदारी के बीच बने इस गैप को काफी तेजी से भर रहा है। हाल ही की एक रिपोर्ट के मुताबिक अब Ola जहाँ इस बाज़ार में 55% की हिस्सेदारी रखता है वहीँ Uber इसको बढाकर 45% तक ले आया है।

READ  Ola करेगा 'दवाओं की डिलीवरी', कर सकता है बैंगलुरू आधारित Myra Medicine का अधिग्रहण

इस बीच आपको बता दें अंकित भाटी से जुड़ी इस खबर का कोई भी अधिकारिक ऐलान नहीं हुआ है और Ola ने भी इस तरह के किसी विवाद या खबर से इंकार किया है।

वहीँ अभी तक अंकित भाटी की ओर से सार्वजानिक तौर पर कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी गई है। दरसल यह सिलसिला पिछले कुछ वर्षों से लगातार चला आ रहा है, जहाँ Ola के टॉप मैनेजमेंट में कई बड़े बदलाव देखने को मिलें हैं।

और इतना ही नहीं Foodpanda के बाद कंपनी ने Ola Electric की शीर्ष प्रबंधन टीम में भी कई बड़े बदलाव किये हैं।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *