OYO जल्द हासिल कर सकता है $1.5 बिलियन का निवेश

OYO के होटल पार्टनर्स भले ही नाराज़ चल रहें हों, लेकिन OYO अभी भी बतौर कंपनी अपनी तेज चाल को पकड़े हुए है। और शायद इसलिए भी OYO निवेशकों की पहली पसंद बना हुआ है। 

दरसल गुरुग्राम स्थित हॉस्पिटैलिटी ब्रांड OYO Hotels & Homes ने घोषणा की है कि कंपनी जल्द ही अपने नए फंडिंग राउंड के हिस्से के रूप में $ 1.5 बिलियन का निवेश हासिल करने जा रही है।

खास यह है कि यह घोषणा ऐसे समय में हुई है जब मीडिया रिपोर्ट बताती हैं कि अधिकतर होटल साझेदार OYO से असंतुष्ट चल रहें हैं और वह कंपनी के साथ अपनी साझेदारी खत्म करने का मन तक बना चुकें हैं।

दरसल एक प्रेस रिलीज़ में OYO ने कहा कि कंपनी सीरीज F राउंड में रितेश अग्रवाल की RA Hospitality Holdings से लगभग $700 मिलियन डॉलर का निवेश हासिल करेगी और शेष $800 मिलियन अन्य मौजूदा निवेशकों द्वारा दिए जायेंगें।

इस बीच कंपनी ने इस प्राप्त किये जाने वाले निवेश के इस्तेमाल का भी ऐलान किया और कहा कि इस प्राप्त निवेश का उपयोग कंपनी संयुक्त राज्य अमेरिका में अपने संचालन का विकास करने और यूरोप में रेंट कारोबार में अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए करेगी।

READ  जल्द ही "Grab" कर सकती हैं एशिया में "सुपर ऐप्प" का लांच

कंपनी ने इस बीच यह भी दावा किया है कि उसने अगस्त 2019 में अगस्त 2018 की तुलना में राजस्व में 3.8 गुना की वृद्धि दर्ज की है। साथ ही यह भी कहा गया कि कंपनी के पास $2 बिलियन डॉलर की मजबूत बैलेंस शीट है।

OYO Hotels & Homes के संस्थापक और CEO (ग्लोबल) रितेश अग्रवाल ने कहा,

“मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि Y-O-Y के आधार पर न केवल हम लाभकारी रूप से काम कर रहे हैं, बल्कि साथ ही EBITDA में भी 50% तक का सुधार हुआ है।”

आपको बता दें कि अग्रवाल द्वारा 2013 में स्थापित, OYO एक फ्रेंचाइजी मॉडल के रूप में विकसित हुआ है। इसकी वर्टीकल हॉलीडे होम, कसीनो होटल और काउकोरिंग स्पेस से लेकर बजट होटल, कॉरपोरेट स्टे और अन्य तक फैलें हुए हैं।

READ  Ola ने हासिल किया 52 करोड़ का निवेश, OYO को पछाड़ बना भारत का दूसरा सबसे सफ़ल स्टार्टअप

कंपनी ने अमेरिका, यूरोप, ब्रिटेन, भारत, चीन, इंडोनेशिया और जापान सहित 80 से अधिक देशों के 800 से अधिक शहरों में अपनी सेवाओं का विस्तार किया है।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *