Paytm ने अपने ट्रेवल बिज़नेस में 250 करोड़ के नए निवेश का किया ऐलान

One97 Communications के स्वामित्व वाली लोकप्रिय ऑनलाइन पेमेंट सेवा, Paytm ने अब भारत में अपनी एक और सेवा के व्यापक प्रसार का मन बनाया है

जी हाँ! दरसल भारत की सबसे बड़ी ऑनलाइन पेमेंट फर्म पेटीएम (Paytm) ने आज यह घोषणा की कि वह अगले छह महीनों में अपने ट्रेवल बिज़नेस में 250 करोड़ रुपये का निवेश करेगी।

कंपनी ने एक प्रेस रिलीज़ में कहा, उत्पाद और प्रौद्योगिकी टीम के पैमाने को बढ़ाने के लिए नए व्यापार कार्यक्षेत्रों की स्थापना और मौजूदा बाजार में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए इस निवेश का उपयोग किया जाएगा।

Paytm Travel के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट अभिषेक राजन ने कहा,

“हम टियर 2 और 3 शहरों में मजबूत वृद्धि का लक्ष्य लेकर चल रहें हैं, जो हमारे नए ग्राहकों का 65% से अधिक है। हम मानते हैं, ग्राहक की समस्या को हल करने और उन्हें एक सफ़ल उत्पाद अनुभव देने में तेजी से फोकस करते हुए Paytm को पसंदीदा ट्रेवल बुकिंग प्लेटफ़ॉर्म बनाया जा सकता है। अपने 15 मिलियन से ज्यादा ट्रैवल यूजर्स के साथ अब यह निवेश हमें  ट्रैवल बुकिंग क्षेत्र में एक प्रमुख खिलाड़ी के रूप में आगे बढ़ने में मदद करेगा।”

हालाँकि यह एक वास्तविक लक्ष्य भी लगता है दरसल $1 बिलियन से अधिक के ग्रॉस मर्चेंडाइज वॉल्यूम (GMV) और 15 मिलियन से अधिक सक्रीय उपयोगकर्ता आधार के साथ अगर सही दिशा में कंपनी ने प्रयास किये तो ट्रेवल बुकिंग क्षेत्र में वह अग्रणी प्लेटफ़ॉर्म साबित हो सकती है। 

आंकड़ों के लिहाज़ से हम आपको बता दें कि Paytm का ट्रैवल बिजनेस सिर्फ 3 साल के ऑपरेशंस में 100 मिलियन से ज्यादा टिकट बेचने के मामले में सबसे तेज रहा है।

READ  मद्रास हाईकोर्ट ने कहा, "WhatsApp साबित करे कि वह IT Acts का पालन करता है"

इसके साथ ही कंपनी हर महीने 6 मिलियन से अधिक यात्रा टिकट बेचने का दावा भी करती है। जिसके मौजूदा वित्त वर्ष में 100% बढ़ने का लक्ष्य भी बनाया गया है।

इसके साथ ही Paytm ने पिछले दो वर्षों में ही अपने मूल्यांकन को 2017 में 7 बिलियन डॉलर के मुकाबले दोगुना से अधिक कर लिया है। और कंपनी ने जापान का सॉफ्टबैंक विजन फंड का भी सही इस्तेमाल किया है

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *