July 13, 2020
  • facebook
  • twitter
  • linkedin

SpaceX’s के Starship रॉकेट प्रोटोटाइप में हुआ परीक्षण के दौरान विस्फोट; तीसरा परीक्षण भी असफल

अमेरिकी कंपनी SpaceX’s के Starship रॉकेट प्रोटोटाइप में शुक्रवार को परीक्षण के दौरान विस्फोट हो गया। साल भर के भीतर यह चौथी बार हुआ है जब  SpaceX’s का Starship प्रोटोटाइप हादसे का शिकार हो गया है। अंतरिक्ष मामलों में कारोबार से संबंधित कंपनी SpaceX पहली निजी कंपनी है जो कि Falcon 9 रॉकेट की मदद से अंतरिक्ष में दो Astronauts को 27 जुलाई से अंतरिक्ष में भेज रहा है।

SpaceX का सबसे नया Starship प्रोटोटाइप में शुक्रवार यानी 29 मई, 2020 को दक्षिण टेक्सास में एक ग्राउंड परीक्षण के दौरान विस्फोट हो गया।   विस्फोट के रूप में आता है कि कंपनी एक अलग रॉकेट पर एक और प्रमुख प्रक्षेपण के लिए गिनती कर रही है। हालांकि, तात्कालिक रूप से किसी भी चोट की पुष्टि नहीं की गई है। Elon Musk’s अंतरिक्ष कंपनी ने पहली बार इस तरह के आक्रामक वाहन का इस्तेमाल किया था।

द गार्जियन की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, परीक्षण विस्फोट SpaceX के फ्लोरिडा के Kennedy Space Center से दो नासा अंतरिक्ष यात्रियों के आगामी लॉन्च से संबंधित नहीं था और जो एक अलग रॉकेट प्रणाली का उपयोग कर रहा था। सबसे ऊपर क्रू ड्रैगन कैप्सूल के साथ Falcon 9 मौजूद था।

वेबसाइट नासा स्पेसफ्लाइट के दर्ज़ एक लाइव स्ट्रीमिंग में यह देखा गया कि को हुए SpaceX की Boca Chica परीक्षण स्थल पर एक विस्फोटक आग के गोले से प्रोटोटाइप गायब हो गया। किसी भी तरह की तात्कालिक चोट और क्षति दर्ज़ नहीं की गई है। इसपर SpaceX ने किसी भी तरह की टिप्पणी से साफ़ इंकार किया है।

Starship रॉकेट 394 फीट लंबा है, जो इंसानों और 100 टन कार्गो को चंद्रमा और मंगल पर ले जाने के लिए ही बनाया गया है। यह एक अंतरिक्ष कंपनी है और यह लॉन्च वाहन अगली पीढ़ी तक पूरी तरह से पुन: इस्तेमाल होती रहेगी। मानव अंतरिक्ष यात्रा को सस्ता और सुगम बनाने के लिए Musk’s के महत्वाकांक्षाओं का मुख्य केंद्र है।

SpaceX जिसे परीक्षण स्थान के रूप में खरीदने की कोशिश कर रहा है वह जगह दक्षिण टेक्सास के एक छोटे से पड़ोस के पास स्थित है। लेकिन वहां के कुछ निवासियों ने कंपनी के प्रस्तावों को यह कहकर ठुकरा दिया है कि उन्हें ज़मीन के बदले काफ़ी कम कीमत मिल रही है। वहां के निवासियों ने Musk’s के वकीलों पर अनुचित रूप से कम संपत्ति मूल्यांकन का भी आरोप लगाया है।

नासा द्वारा 3 कंपनियों को दिए गए एक संयुक्त $1 बिलियन के पुरस्कार में SpaceX भी उनमें से एक कंपनी थी। यह पुरस्कार इसलिए प्रदान किया गया था ताकि चंद्रमा पर सक्षम रॉकेट सिस्टम विकसित किया जा सकें जिससे कि कार्गो और मनुष्यों को आराम से चंद्रमा पर ले जाया सके। SpaceX ने Starship को इसके लिए चुना।

FAA ने अंतरिक्ष कंपनी को गुरुवार को Starship की पहली सबऑर्बिटल उड़ान परीक्षण शुरू करने के लिए एक लाइसेंस दिया है। हालांकि यह अभी पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है कि इसका परीक्षण कब संभव है ? लेकिन बहुत जल्द यह कयास लगाए जा रहे है कि यह परीक्षण संभव हो पाएगा।

Abhinav Narayan is presently a student of Law from Amity Law School, Noida; and is a vastly experienced candidate in the field of MUNs and youth parliaments. The core branches of Abhinav's expertise lies in Hindi writing, he writes Hindi poems and is a renowned orator. He is currently the President of the Hindi Literary Club, Amity University.
  • facebook

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *