July 1, 2020
  • facebook
  • twitter
  • linkedin

TechSamvad Virtual Labs: An Exclusive Opportunity For Startup Community

मौजूदा हालतों में COVID-19 के चलते हुए लॉकडाउन की बात करें या फिर सरकार द्वारा लिए गये अन्य कई फ़ैसलों की, इन सभी का प्रभाव जिन जिन क्षेत्रों में व्यापाक रूप से पड़ा है, उनमें से एक है Startup जगत। हालाँकि इसके लिए आप देश को दोषी नहीं ठहरा सकतें हैं, क्योंकि महामारी की चपेट में आकार इस वक़्त पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था भी वेंटिलेटर पर आ गई सी लगी है।

लेकिन हम फ़िलहाल बात करेंगें भारत के Startup जगत, जी हाँ! वहीं Startup जगत जिसको कुछ ही महीनों पहले तक देश में तमाम संभावनाओं का लाभ उठाने का मौक़ा भी मिल रहा था और Investors का भरपूर साथ भी। लेकिन अचानक बनें इन हालतों नें होटल इंडस्ट्री, कैब स्टार्टअप्स, ट्रैवल इंडस्ट्री, फ़िनटेक इंडस्ट्री, को-वर्किंग स्पेस जगत से लेकर ऑनलाइन फ़ूड जगत तक जैसी तमाम क्षेत्रों को अपनी चपेट में लेते हुए, पूरे बाज़ार में एक खामोशी का माहौल बना दिया।

इससे जगह बड़े बड़े स्टार्टअप्स भी नौकरियों में कटौती और कई क्षेत्रों में संचालन बंद तक करने को मजबूर हो गए, वहीं नए-पुराने सभी स्टार्टअप्स को ताज़ा निवेश के लिहाज़ से भी काफ़ी नुक़सान हो रहा है।

हाल ही में सामनें आयी LocalCircles की एक रिपोर्ट की मानें तो अब हालात यहाँ तक आ पहुँचें हैं कि देश में 38% से अधिक स्टार्टअप्स के पास संचालन जारी रखने के लिए पैसे ही नहीं बचें हैं। और बुरा यह है कि निवेशकों को भी लम्बें समय तक हालतों में कोई बड़ा पिक-अप होता नज़र नहीं आ रहा है, इसलिए निवेशक भी क़रीब क़रीब अपने हाथ समेटे हुए हैं।

दरसल इस रिपोर्ट में LocalCircles के एक सर्वे के हवाले से यह भी बताया गया है कि क़रीब 4% स्टार्टअप पहले ही बंद हो गए हैं। 16% स्टार्टअप्स के पास क़रीब 3 महीनें से अधिक संचालन का पैसा नहीं बचा है।

राहत की एक ख़बर ज़रूर है कि सर्वे के अनुसार 35% स्टार्टअप्स व SMEs को कुछ महीनों में सुधार के आसार ज़रूर नज़र आ रहें हैं, लेकिन 14% स्टार्टअप्स के अनुसार शायद आने वाले समय में उन्हें बिज़नेस बंद करना पद जाए।

वहीं सरकारी राहत की बातें करें तो रिपोर्ट के अनुसार सिर्फ़ 14% कंपनियों ने कहा कि ‘आत्मनिर्भर भारत प्रोत्साहन’ पैकेज से उन्हें लाभ मिला हैं, लेकिन 57% का यह भी कहना ने कि इस पैकेज के ज़रिए उन्हें कोई मदद नहीं मिल सकी है। इसके अपने अपने कारण हो सकतें हैं।

इस बीच एक और रिपोर्ट सामने आई जो थी स्टार्टअप डेटा कलेक्टर Traxxn की, इसके अनुसार 5 जून के बीच में सिर्फ़ 79 सीड फ़ंडिंग राउंड ही दर्ज किए गये। बता दें पिछले साल अप्रैल और 5 जून के बीच कुल $154.5 मिलियन के 188 सीड फ़ंडिंग राउंड दर्ज किए गए थे। वहीं अप्रैल-जून तिमाही में हुई Series A फ़ंडिंग डील पिछले साल के इसी तिमाही के 103 के आँकड़े के मुक़ाबले सीधा नीचे जाकर सिर्फ़ 36 तक सिमट गई।

बात कर लें अगर Series A फ़ंडिंग राउंड में हासिल की गई कुल राशि की तो यह भी पिछले साल के मुक़ाबले आधे से भी काम ही रही, जो क़रीब लगभग $238.5 मिलियन के आसपास होने का दावा किया जा रहा है।

समाधान क्या है?

ऐसे हालतों में हमारा मानना है कि एक हर एक स्टार्टअप को ज़रूरत है कि वह एक कुशल रणनीति के साथ वापस से ज़ोर आज़माइश करें और नए हालतों में नए तरीक़ों को अपनाते हुए अपनी जगह वापस से हासिल करने का प्रयास करें। लेकिन इसके लिए सबसे ज़रूरी है एक व्यापाक अनुभव का साथ, उनकी गाइडेंस व सलाह!

तो आपके लिए इसी अहम चीज़ को आसान बनाने के मक़सद से आपका अपना प्लेटफ़ोर्म Techसंवाद लेकर आया है भारत का सबसे बड़े Online Startup Accelerator प्रोग्राम में से एक “TechSamvad Virtual Labs” जहाँ कुछ चुनिंदा स्टार्टअप्स को मिलेगा मौक़ा इंडस्ट्री के कुछ सबसे बड़े नामों से सीधे जुड़ पानें का और उनसे अपने सवालों के सटीक जवाब हासिल करते हुए, उनके व्यापाक अनुभवों से सीखनें और अपनानें का।

TechSamvad Virtual Labs

इतना ही बल्कि सबसे ख़ास बात यह है कि सभी Startup पैनल में शामिल Investors और हस्तियों के साथ ही साथ Techसंवाद नेट्वर्क और सार्वजनिक मंच का पूरा लाभ उठाते हुए, संभावित Investors के आगे फ़ंडिंग के लिए Pitch भी कर सकेंगे।

आपको बता दें TechSamvad Virtual Labs के इस भाग में आपको बतौर Guest Speakers पैनल में Sam Pitroda (Telecom Innovator and Entrepreneur), Ritu Marya (Chief Editor of Entrepreneur India), Sam Subramaniam (CEO – Brand Capital, Bennett, Coleman & Co Ltd – The Times of India Group), V. Ramgopal Rao (Director, IIT Delhi), Syna Dehnugara (Chief Brand Officer at LetsVenture [Previously Features Editor at CNBC-TV18]), और Gaurav Mehta (Chief Marketing Officer at Girnarsoft [CarDekho]) जैसे देश के कुछ सबसे बड़े नाम हैं।

तो फिर देर कैसी अगर आप भी है बतौर Startup सफ़लता की ओर क़दम बढ़ाने को तैयार, तो अभी रेजिस्टर करें

रेजिस्ट्रेशन लिंक: यहाँ क्लिक करें!  

TechSamvad Virtual Labs TechSamvad Virtual Labs

amicableashutosh@gmail.com'

Co-Founder & Editor-In-Chief
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *