Twitter ने राजनीतिक विज्ञापनों पर लगाया बैन; कहा “Reach अर्जित की जानी चाहिए, खरीदी नहीं”

फ़ेंक न्यूज़ इत्यादि के सवालों से लगातार जूझ रहे माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म Twitter ने अब इन सवालों से चे छुड़ाने के लिए एक बड़ा कदम उठाने का फ़ैसला किया है

जी हाँ! दरसल Twitter ने प्लेटफ़ॉर्म पर दुनिया भर में सभी राजनीतिक विज्ञापनों पर प्रतिबंध लगा दिया है। ऐसा करते हुए Twitter ने कहा की राजनीतिक संदेशों की Reach “अर्जित की जानी चाहिए, खरीदी नहीं”।

कंपनी के सीईओ जैक डोरसी ने ट्वीट किया,

“इंटरनेट विज्ञापन वाणिज्यिक विज्ञापनदाताओं के लिए अविश्वसनीय रूप से शक्तिशाली और बहुत प्रभावी है, जबकि यह शक्ति राजनीति के लिए एक प्रमुख जोखिम भी है।”

आपको बता दें कि प्लेटफ़ॉर्म ने दुनिया भर में सभी राजनीतिक विज्ञापनों पर प्रतिबंध के लिए 22 नवंबर का दिन चुना है और इसके साथ ही इस फैसले से जुड़ी पूरी जानकारी भी 15 नवंबर तक जारी की जाएगी। 

अपने ट्वीट में, जैक ने कहा

“राजनीतिक संदेश तब पहुंचते हैं जब लोग अनुसरण करते हैं या रीट्वीट करते हैं। और इस पहुंच के लिए भुगतान कर अत्यधिक लोगों तक अनुकूलित और लक्षित तरीके से राजनीतिक संदेशों को पहुँचाने की प्रक्रिया को हटा दिया गया है।”

“हमारा मानना ​​है कि लोगों के राजनैतिक विचारों को पैसे से प्रभावित करना उचित नहीं है”

दरसल जैक के अनुसार इंटरनेट राजनीतिक विज्ञापनों नें नागरिक विमर्श के लिए पूरी तरह से नई चुनौतियां प्रस्तुत कीं हैं। इन चुनौतियों में “मैसेजिंग का मशीन लर्निंग-आधारित ऑप्टिमाइज़ेशन”, “माइक्रो-टारगेटिंग, अनियंत्रित भ्रामक जानकारी” इत्यादि शामिल हैं।

READ  भारत में Facebook, Twitter की हिस्सेदारी को कम करते हुए TikTok निकला सबसे आगे

हालाँकि आपको बता दें कि इस बीच सोशल मीडिया दिग्गज Facebook भी राजनैतिक विज्ञापनों और फ़ेंक न्यूज़ इत्यादि को लेकर काफी सवालों के घेरे में रहा है।

लेकिन इन सब के बाद भी Facebook ने हाल ही में राजनीतिक विज्ञापनों पर प्रतिबंध लगाने से इनकार किया है। दरसल सोशल मीडिया पर राजनैतिक विज्ञापनों को लेकर प्रतिबंध पर भी 2020 के चुनाव के लिए अमेरिका के राजनीतिक शिविरों विभाजित नज़र आ रहें हैं।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के चुनाव अभियान के प्रबंधक ब्रैड पार्स्केल ने कहा कि प्रतिबंध ट्रम्प और रूढ़िवादियों को चुप कराने के लिए वामपंथियों द्वारा एक और प्रयास था।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *