Zoomcar ने अपनी ‘पैरेंट कंपनी’ और WeWork India के सीईओ से हासिल किया 55 करोड़ रूपये का निवेश

बेंगलुरु आधारित किराये पर कार उपलब्ध करवाने वाली सेवा Zoomcar ने अपनी अमेरिका आधारित पैरेंट इकाई Zoomcar Inc और WeWork India के सीईओ करण विरवानी से 55.7 करोड़ रूपये का निवेश अर्जित किया है।

आपको बता दें कि Zoomcar Inc. ने कंपनी में 48.47 करोड़ रूपये के शेयर खरीदे, वहीं विरमानी ने 7 करोड़ रूपये का निवेश किया। कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के अनुसार, कंपनी ने 4956 रूपये प्रति शेयर के लिए मूल इकाई पर 97,604 इक्विटी शेयर आवंटित करने का प्रस्ताव पारित किया था।

आपको बता दें की Zoomcar ने बीते साल सितंबर में भी अपनी पैरेंट कंपनी ने निवेश हासिल किया था। और उसके बाद कंपनी ने इस साल जुलाई में भी एक बार फ़िर मूल इकाई से निवेश हासिल करने में सफ़लता प्राप्त की।

इसके साथ ही आपको बता दें की फाइलिंग से पता चलता है कि कंपनी ने ने विरवानी को 10,000 के प्रति 720 असुरक्षित परिवर्तनीय डिबेंचर आवंटित किये हैं।

आपको बता दें कि इस स साल Zoomcar ने Mahindra and Mahindra, Blacksoil Capital और Trifecta सहित अन्य निवेशकों से करीब 120 करोड़ रूपये का कुल निवेश अर्जित किया है।

डेविड बैक और ग्रेग मोरन द्वारा 2013 में स्थापित Zoomcar एक सेल्फ ड्राइव कार रेंटल स्टार्टअप है जो घंटे, दिन और सप्ताह के हिसाब से कारों को किराए पर देता है।

कंपनी हर दिन तीन हजार ग्राहकों को सेवाएं प्रदान करने का दावा करती है। कंपनी की वेबसाइट यह भी बताती है कि कंपनी के 48 लाख से अधिक ग्राहक हैं और इसने करीब 6,500 कारें ऑनबोर्ड कर रखी हैं।

READ  Amazon ने लॉन्च किया नया 'वाटरप्रूफ' Kindle Paperwhite, दुगनी स्टोरेज क्षमता

अपने लॉन्च के बाद से कंपनी ने दिल्ली, मुंबई, कोच्चि, बेंगलुरु, पुणे आदि सहित 42 शहरों में अपनी सेवाओं का विस्तार किया है। इसके साथ ही जून में Zoomcar ने जर्मन ऑटोमोबाइल Volkswagen Polo के साथ भी साझेदारी की थी, जो भारतीय जगत के इस किराये की कार संबंधी बाजार में प्रवेश करना चाहती थी।

साझेदारी के तहत Volkswagen के कार मॉडल Zoomcar  ग्राहकों को एक निश्चित मासिक सदस्यता शुल्क पर उपलब्ध होंगे। कार किराए पर देने वाली कंपनियों की Zoomcar साझेदार कंपनियों की इस सूची में Nissan, Toyota और Renault जैसे वैश्विक ऑटोमोबाइल खिलाड़ियों भी शामिल हैं।

एशियन एज की हालिया रिपोर्ट के अनुसार, Zoomcar वर्तमान में प्रति वर्ष कुल शहरी यात्री कार इकाइयों में लगभग 12% की हिस्सेदारी रखता है, इस दौर में कंपनी Maruti Suzuki और Hyundai Motors के बार तीसरे स्थान पर है।

आपको बता दें की इसके प्रतिद्वंदियों में Revv, Myles and Avis India, और MyChoize जैसे स्टार्टअप शामिल हैं। और अब सबसे बड़ी चुनौती बनकर इसके सामने Ola जल्द आ सकता हैं।

क्यूंकि अब Ola ने भी भारत में अपनी सेल्फ ड्राइविंग कार रेंटल सेवा शुरू करने की योजना की घोषणा करी है। फिलहाल Ola बेंगलुरु में इस योजना को पायलट परीक्षण के रूप में चला रहा है।

Loading...

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रौद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं | Founder & Editor-In-Chief (TechSamvad)
  • facebook
  • twitter
  • linkedIn
  • instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *